श्री ऋशभदेवाय नमः

परिचय

श्री भरत क्षेत्र पावापुरी दि0 जैन मंदिर भारत की राजधानी नई दिल्ली की पश्चिम दिशा में स्थित उपनगर नजफगढ़ में स्थित हैं। भरत क्षेत्र तीर्थ क्षेत्र के साथ-साथ एक पर्यटन स्थल भी है। आजादी से पूर्व अंग्रेजो के समय में नजफगढ़ एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल था। पूर्व में जैन व मुस्लिम ही यहाॅ के बिस्वेदार थे।

श्री भरत क्षेत्र का निर्माण नजफगढ़ के मध्य में लगभग 40 हजार वर्ग गज मे हुआ है, श्री भरत क्षेत्र का पंचकल्याणक सन् 2007 में आचार्य श्री विद्यानंद जी एवं एलाचार्य श्री श्रुत सागर जी महाराज के सानिध्य में सम्पन्न हुआ था। यहाॅ 31 फीट ऊॅचे विशाल मंदिर के शीर्ष पर मूलनायक भगवान 1008 श्री ऋषभनाथ जी की सवा उन्नीस फीट उत्तंग पद्मासन लाल पाषाण से निर्मित भव्य मनोहारी प्रतिमा जी विराजमान है। मूलनायक मंदिर के निचले हिस्से में विशाल हाॅल के अन्दर 23वें तीर्थंकर भगवान 1008 श्री पाश्र्वनाथ जी की सवा ग्यारह फीट हरे पाषाण से निर्मित खड़गासन अतिशयकारी प्रतिमा विराजमान हैं।

भरत क्षेत्र की रचना में 20 जिनालयों के साथ जल मंदिर में भगवान शीतलनाथ अपनी अलग ही अनुपम छटा बिखेर रहे हैं, जिसके चारो तरफ वृहद लवण समुद्र की रचना की गई हैं। लवण समुद्र के बाहिरी भाग में सफेद मार्बल से निर्मित 61 फीट ऊॅचा भव्य मानस्तम्भ शोभायमान हैं।

यहाॅ पावापुरी (प्रतिकृति) की रचना की गई हैं जिसके दर्शन से भगवान महावीर स्वामी की मोक्ष स्थली का साक्षात्कार होता है। पावापुरी के चारो तरफ जलाशय की अद्वित्तीय रचना हैं जिसमें यात्रीगण नौका विहार कर आनन्दित होते हैं।

श्री भरत क्षेत्र के प्रांगण में श्री जती जी महाराज का आश्रम है, यहाॅ जती जी महाराज के अतिशयकारी चरण स्थापित हैं। जो भी यहाॅ ज्योत जलाकर मनोकामना करते हैं वह पूर्ण होती है। जती जी महाराज के चरणो के दर्शन हेतु प्रतिदिन सैकड़ो जैन-अजैन आते हैं। मंगलवार का दिन जती जी महाराज का विशेष दिवस होता है, उस दिन अनेकों दर्शनार्थी देश के विभिन्न कोनो से यहाॅ आते हैं।

यहाॅ श्री अग्रवाल दि0 जैन समाज, नजफगढ़ द्वारा ब्ठैम् ठवंतक मान्यता प्राप्त आदर्श जैन धार्मिक शिक्षा सदन सी0 से0 पब्लिक स्कूल (जैन स्कूल) पिछले 40 बर्षाे से संचालित है, जिसमें वर्तमान में 800 से भी अधिक बच्चे शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं।

श्री भरत क्षेत्र पर लगभग पिछले 50 बर्षाे से पक्षियों हेतु प्रतिदिन 2-3 बोरी चुग्गा (दाना) डाला जाता हैं।

नजफगढ़ में मूलनायक भगवान 1008 श्री पाश्र्वनाथ जी का भव्य मंदिर है जो कि दिल्ली प्रदेश के दो प्राचीनतम मंदिरो में से एक हैं। मूलनायक भगवान श्री पाश्र्वनाथ जी की 568 बर्ष प्राचीन प्रतिमा जी विराजमान हैं जो कि अति मनोज्ञ व अतिशयकारी हैं।

श्री अग्रवाल दिगम्बर जैन पंचायत (रजि0)
श्री भरत क्षेत्र निर्माण समिति
नजफगढ़
नई दिल्ली - 110043
फोन नं0 - 011-65170734

Give your feedback here :