भगवान 1008 श्री पाश्र्वनाथ जी

भगवान 1008 श्री पाश्र्वनाथ जी

श्री भरत क्षेत्र मूलनायक मंदिर के निचले हिस्से में विशाल हाॅल के अन्दर 23वें तीर्थंकर भगवान 1008 श्री पाश्र्वनाथ जी की सवा ग्यारह फीट हरे पाषाण से निर्मित खड़गासन अतिशयकारी प्रतिमा विराजमान हैं।

हाॅल में वेदी पर भगवान श्री आदिनाथ जी, भगवान श्री महावीर स्वामी जी, भगवान बाहुवली स्वामी एवं भगवान भरत स्वामी की प्रतिमायें भी विराजमान हैं।