भरत क्षेत्र की विशाल रचना

भरत क्षेत्र की विशाल रचना

यहाॅ भरत क्षेत्र की बहुत ही अनुपम, अद्वित्तीय, विशाल रचना की गई हैं। भरत क्षेत्र में सर्वप्रथम हिमवन पर्वत बनाया गया हैं जिसके ऊपर 11 भव्य जिनमंदिर स्थापित हैं, जिनमंदिरो के मध्य में एक पद्म सरोवर निर्मित किया गया हैं जिसमें कमल मंदिर की रचना की गई हंै। हिमवन पर्वत के समानान्तर विजयार्द्ध पर्वत बनाया गया हैं जिसके ऊपर 9 भव्य जिनमंदिर स्थापित हैं।

पद्म सरोवर से गौ मुख द्वारा दो नदियां निकल रही हैं जो भरत क्षेत्र को तीन खण्डों में विभाजित कर रही हैं। जिसमें एक आर्य खण्ड व दो मलच्छ खण्ड हैं। भरत क्षेत्र के चारों तरफ वृहद् लवण समुद्र की रचना की गई हैं।